GSblog

राष्ट्रीय युवा सशक्तिकरण कार्यक्रम | RYSK

RYSK की शुरुआत

  • इस योजना की शुरुआत 12वीं पंचवर्षीय योजना के दौरान हुई।
  • यह एक केंद्रीय क्षेत्र की योजना है।
  • इस योजना का नोडल मंत्रालय युवा कार्यक्रम और खेल मंत्रालय है।
  • हाल ही में सरकार ने 15वें वित्त आयोग चक्र (2021-22 से 2025-26 तक) की अवधि के लिए इस कार्यक्रम को जारी रखने का निर्णय लिया है।

RYSK के उद्देश्य

  1. देश के युवाओं में व्यक्तित्व एवं नेतृत्व गुणों का विकास करना और उन्हें राष्ट्र निर्माण की गतिविधियों में शामिल करना।
  2. युवाओं को अपने संबंधित क्षेत्रों में उत्कृष्टता के लिए प्रयास करने हेतु प्रेरित करना और उन्हें विकास प्रक्रिया में सबसे आगे लाना।
  3. राष्ट्रीय एकता, साहसिक कार्य, युवा नेतृत्व और व्यक्तित्व विकास, किशोरों का विकास और सशक्तिकरण, तकनीकी और संसाधन विकास को बढ़ावा देना।
  4. इस योजना से राष्ट्र के निर्माण के लिए अपार युवा ऊर्जा का उपयोग किया जाएगा।

RYSK की विशेषताएं

  • RYSK योजना के कार्यक्रम निम्नलिखित 7 उप-योजनाओं के माध्यम से कार्यान्वित किए जाते हैं-
    • नेहरू युवा केंद्र संगठन (NYKS)
    • राष्ट्रीय युवा कोर (NYC)
    • युवा और किशोर विकास के लिए राष्ट्रीय कार्यक्रम (NPYAD)
    • अंतर्राष्ट्रीय सहयोग
    • युवा छात्रावास (YH)
    • स्काउटिंग और गाइडिंग संगठनों को सहायता
    • राष्ट्रीय युवा नेतृत्व कार्यक्रम (NYLP)
  • योजना के लाभार्थी
    • योजना के लाभार्थियों में 15-29 वर्ष आयु समूह के युवा शामिल हैं, जो राष्ट्रीय युवा नीति, 2014 में ‘युवा’ की परिभाषा के अनुरूप है।
    • इसे विशेष रुप से किशोरों से संबंधित कार्यक्रम के घटकों के मामले में आयु समूह 10-19 वर्ष है।
  • इस कार्यक्रम में स्किलिंग एंड हैन्ड होल्डिंग, आत्मनिर्भर भारत को सहयोग देने, कोविड-19 से मुकाबला करने: बड़े पैमाने पर जागृति और एक्शन कैंपेन, आपदा जोखिम न्यूनीकरण और तैयार टीमों की स्थापना, फिट इंडिया मूवमेंट, युवाओं को स्वतच्छता पर प्रशिक्षण, युवा मंडल विकास अभियान आदि कार्यक्रम शामिल हैं।
  • इसके अलावा, राष्ट्रीय युवा महोत्सव, युवा संसद, अंतर्राष्ट्रीय युवा आदान-प्रदान कार्यक्रम और विभिन्न अंतर्राष्ट्रीय युवा शिखर सम्मेलन/ बैठकें आदि का आयोजन किया जाता है।

RYSK से जुड़े अन्य महत्त्वपूर्ण तथ्य

  • युवा कार्यक्रम और खेल मंत्रालय को RYSK योजना के तहत राष्ट्रीय युवा स्वयंसेवी रजिस्ट्री के निर्माण के लिए 41.60 करोड़ रुपए का कोष प्रदान किया गया है।
  • राष्ट्रीय युवा स्वयंसेवी रजिस्ट्री के निर्माण से स्वयंसेवकों की त्वरित और प्रभावी एकजुटता एवं तैनाती की सुविधा होगी और देश में स्वयंसेवी कार्यों की रियल-टाइम ट्रैकिंग सक्षम होगी।
  • मंत्रालय संयुक्त राष्ट्र की एजेंसियों जैसे संयुक्त राष्ट्र स्वयंसेवकों (UNV)/ संयुक्त राष्ट्रीय विकास कार्यक्रम (UNDP) और राष्ट्रमंडल युवा कार्यक्रम (CYP) के साथ विभिन्न युवा संबंधित मुद्दों पर भी सहयोग करता है।
Govt Schemes Tags:, , , , , , , , , , , , , , , , , , ,

Leave a Reply

Your email address will not be published.

RSS
WhatsApp