GSblog

congree adhivation

भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के प्रमुख अधिवेशन

1885 का कांग्रेस का प्रथम अधिवेशन

स्थान – बम्बई

अध्यक्ष – व्योमेश चन्द्र बनर्जी दो बार अध्यक्ष (1885,1892)

72 प्रतिनधियों ने भाग लिया।

दादा भाई नौरोजी के सुझाव पर भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस नाम रखा गया।

1886 कांग्रेस का अधिवेशन

स्थान -कलकत्ता

अध्यक्ष – दादा भाई नौरोजी (तीन बार कांग्रेस के अध्यक्ष बने 1886,1893,1906)

image source google

1887 का कांग्रेस अधिवेशन

स्थान – मद्रास

अध्यक्ष – बदरुद्दीन तैय्यब ( कांग्रेस के पहले मुस्लिम अध्यक्ष थे)

1888 का कांग्रेस अधिवेशन

स्थान – इलाहाबाद

अध्यक्ष – जॉर्ज यूले (प्रथम अंग्रेज अध्यक्ष)

1896 का कांग्रेस अधिवेशन

स्थान – कलकत्ता

अध्यक्ष – रहीमतुल्ला सयानी

इस अधिवेशन में राष्ट्रीय गीत वंदे मातरम का पहली बार गायन किया गया

1905 का कांग्रेस अधिवेशन

स्थान – वारणसी

अध्यक्ष – गोपाल कृष्ण गोखले

स्वदेशी आंदोलन का समर्थन

1906 का कांग्रेस अधिवेशन

स्थान – कलकत्ता

अध्यक्ष – दादा भाई नौरोजी

इस अधिवेशन में पहली बार स्वराज शब्द का प्रयोग किया गया।

image source google

1907 का कांग्रेस अधिवेशन

स्थान – सूरत

अध्यक्ष – रास बिहारी घोष

इस अधिवेशन में कांग्रेस का विभाजन

1911 का कांग्रेस अधिवेशन

स्थान – कलकत्ता

अध्यक्ष – विशन नारायण दर

इस अधिवेशन में पहली बार जन गण मन का गान किया गया

1916 का कांग्रेस अधिवेशन

स्थान – लखनऊ

अध्यक्ष – अम्बिकचरण मजूमदार

इस अधिवेशन में कांग्रेस-लीग के बीच लखनऊ पैक्ट (पृथक निर्वाचन स्वीकार)

नरम दल और गरम दल एक हुए

1917 का कांग्रेस अधिवेशन

स्थान – कलकत्ता

अध्यक्ष – एनी बेसेंट (कांग्रेस की प्रथम महिला अध्यक्ष बनी)

कांग्रेस की तीन महिलाएं अध्यक्ष

  • 1917 में एनी बेसेंट
  • 1925 में सरोजिनी नायडू (प्रथम भारतीय महिला)
  • 1933 में नलनी सेन गुप्ता

1919 का कांग्रेस अधिवेशन

स्थान – अमृतसर

अध्यक्ष – मोती लाल नेहरू (दो बार अध्यक्ष बने 1919,1928)

image source google

1920 का कांग्रेस अधिवेशन

स्थान – नागपुर

अध्यक्ष – वीर राघवाचारी

असहयोग आंदोलन का प्रस्ताव पारित हुआ

कांग्रेस द्वारा पहली बार भाषाई आधार पर प्रान्तों के गठन की बात की गई।

1924 का कांग्रेस अधिवेशन

स्थान – बेलगाँव (कर्नाटक)

अध्यक्ष – महात्मा गांधी (मात्र एक बार)

1929 का कांग्रेस अधिवेशन

स्थान – लाहौर

अध्यक्ष – जवाहर लाल नेहरू

इस अधिवेशन में पूर्ण स्वराज का प्रस्ताव पारित हुआ।

26 जनवरी 1930 को स्वतंत्रता दिवस मनाने का निश्चय किया गया।

1931 का कांग्रेस अधिवेशन

स्थान – कराची

अध्यक्ष – बल्लभ भाई पटेल

इस अधिवेशन में मौलिक अधिकार सम्बन्धी प्रस्ताव पारित किया गया।

इसी अधिवेशन में गाँधी ने कहा था गाँधी मर सकते हैं परन्तु गांधीवाद नहीं।

1936 का कांग्रेस अधिवेशन

स्थान – लखनऊ

अध्यक्ष – जवाहर लाल नेहरू

इसी अधिवेशन में नेहरू ने कहा मैं समाजवादी हूँ।

1937 का कांग्रेस अधिवेशन

स्थान – फैजपुर

अध्यक्ष – जवाहर लाल नेहरू

पहली बार कांग्रेस का अधिवेशन किसी गाँव में हुआ।

1938 का कांग्रेस अधिवेशन

स्थान – हरिपुरा (गुजरात)

अध्यक्ष – सुभाष चंद्र बोस

इसी अधिवेशन में राष्ट्रीय नियोजन समिति का गठन।

1939 का कांग्रेस अधिवेशन

स्थान – त्रिपुरी (जबलपुर, मध्यप्रदेश)

अध्यक्ष -सुभाष चंद्र बोस

इसी अधिवेशन में गाँधी जी से विवाद होने के कारण सुभाष द्वारा त्यागपत्र दिया जाना तथा राजेन्द्र प्रसाद को अध्यक्ष बनाया गया।

1940 का कांग्रेस अधिवेशन

स्थान –  रामगढ़

अध्यक्ष – अबुल कलाम आजाद

ये सबसे लंबे समय तक कांग्रेस के अध्यक्ष रहे 1940-1945 तक

1947 का कांग्रेस अधिवेशन

अध्यक्ष – जे.बी. कृपलानी

इस website पर लिखे लेख या article मैं खुद लिखती हूँ, जिसमें की मेरे अपने विचार भी शामिल होते हैं; और इनमें लिखे कुछ तथ्यों में कुछ कमी हो सकती है। इन कमियों को सुधारने और इन लेखों को और बेहतर बनाने के लिए मेरी help करें और अपने साथ-साथ और भी विद्यार्थियों को आगे बढ़ने में ऐसे ही सहायता करते रहें।
साथियों यदि आपको इस लेख से जुड़ा कोई भी सवाल हो तो Comment में जरूर बताएं, और अगर आपको लगता है की इसे और बेहतर किया जा सकता है तो अपने सुझाव देना ना भूलें।
ऐसी ही अन्य जानकारी के लिए GS blog पर आते रहें, तथा इसे और बेहतर बनाने में अपना सहयोग दें।

Current Gk Tags:, , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , ,

Leave a Reply

Your email address will not be published.

RSS
WhatsApp